Isha Lahar – August 2017 (Hindi Magazine)

ईशा लहर
खुशहाल और संपूर्ण जीवन का निमंत्रण

• आज के बाजारीकरण के युग में, जहां नई पीढ़ी हमारी शानदार सांस्कृतिक विरासत से अनजान है तथा मानवीय मूल्यों में लगातार क्षय हो रहा है, वहां ईशा लहर अपनी संस्कृति को आधुनिक और वैज्ञानिक शैली में प्रस्तुत करके नई पीढ़ी को एक नया नजरिया और दिशा दे रही है।

• शिक्षित होने का मतलब है अपनी संपूर्ण क्षमताओं में विकसित होना, एक आनंदपूर्ण और काबिल इंसान बनना ‘शिक्षा-दीक्षा’ में आप पढ़ेंगे, बच्चों के सर्वांगीण विकास के ऊपर रूपांतरणकारी विचार व अनूठा नजरिया, जो न सिर्फ बच्चों का बल्कि शिक्षकों व अभिभावकों का भी मार्गदर्शन करती है।

• अपनी जीवन शौली और खान-पान में बदलाव लाकर हम एक स्वस्थ और समृद्ध जीवन जी सकते हैं। ‘देह की दशा’ में आप पढ़ेंगे एक स्वस्थ और समृद्ध जीवन के सूत्र।

• रसोई वह स्थान है जहां सिर्फ भोजन ही नहीं, बल्कि पूरे परिवार की सेहत भी तैयार की जाती है। ‘स्वाद और सेहत’ में आप पढ़ेंगे स्वादिष्ट, सेहतमंद, सात्विक व्यंजनों के बारे में जो न सिर्फ खाने में भाते हैं, बल्कि शरीर में तरोताजगी और फुर्ती भी लाते हैं।

जिज्ञासु का असमंजस में उन तमाम प्रश्नों के उत्तर मिलते हैं जो किसी इंसान के मन में उठ सकते हैं या जिसकी कोई कल्पना कर सकता है। प्रश्न अनेक विषय-वस्तुओं से संबंधित होते हैं- भय, लोभ, काम, क्रोध, कष्ट और पीड़ा, विश्वास और भरोसा, प्रेम और विवाह, नैतिकता, अध्यात्म, इच्छा शक्ति, पागलपन, कर्म, मृत्यु और मोक्ष…।

• जीवन के गहन अनुभव अक्सर कविताओं के माध्यम से व्यक्त किये जाते हैं। ‘काव्यांश’ में आप पढ़ेंगे सद्गुरु की कविताएं जो जीवन के गूढ़ पहलुओं को उजागर करती हैं।

‘संवाद’ में आप पढ़ेंगे समाज के हर क्षेत्र के विशिष्ट व मशहूर व्यक्तियों के साथ सद्गुरु की बातचीत। समसामयिक विषयों पर की गई यह बातचीत लोक-जीवन के कई पहलुओं को छूती है और पाठकों की शंकाओं का समाधान करती है।

जीवन सूत्र – अपने जीवन में अमल करने के लिए हर माह पाठकों को भेंट की जाती है एक अनूठी दृष्टि।

प्रकाशपुंज – योगियों, मनीषियों और ऋषियों के जीवन के जुड़ी प्रेरक घटनाएं जो हमारी राह में हमें रौशनी दिखाती हैं।

• ईशा लहर में अध्यात्म के गहन व गूढ़ पहलुओं के पीछे छुपे रहस्य को वैज्ञानिक तरीके से तर्क के माध्यम से स्पष्ट किया जाता है। अध्यात्म से जुड़े सभी पहलुओं को आप विस्तार से जानेंगे ईशामृतम में।

इंसानी जीवन के तमाम पहलुओं के मर्म, विज्ञान और महत्व को आप पढ़ेंगे 68 पेज की रंगीन पत्रिका ईशा लहर में…