Ananda Lahar – Chaho Aur Pa Lo! (Hindi eBook)

जीवन के कई पहलू हैं- परिवार, रिश्ते, शिक्षा, कैरियर, रोजगार, स्वास्थ्य और न जाने कितनी ऐसी चीजें, जिन पर निर्भर होती है हमारी खुशहाली और कामयाबी। समय की धारा में बहते, हम इनमें कहीं न कहीं उलझते, अटकते और लडख़ड़ाते रहते हैं। जीवन-सागर में ऐसी भी लहरें उठती हैं, जिनकी चपेट में आकर हम डूबने-से लगते हैं। तब हमें तलाश होती है एक नाव की, एक पतवार की, एक नाविक की जो हमें भवसागर पार करा दे। ऐसे में कोई ऐसा मिल जाए जो न केवल हमें राह दिखाए, हमारी निराशा को ही प्रेरणा बना दे, हमारी पीड़ा को ही आनंद में बदल दे, और मुश्किलों से भरी हमारी जीवन धारा में आनंद की लहर पैदा कर दे, तो आप क्या कहेंगे? सद्गुरु एक ऐसे व्यक्ति हैं, जो केवल अध्यात्म की ही चर्चा नहीं करते, अपितु जीवन के हर आयाम के बारे में ऐसी राय देते हैं, जो हमारे अंदर स्पष्टता पैदा करती है, हमारी जीवन-नैया को भंवर से बाहर निकालती है। ये भंवर वही हैं, जिनसे हम सभी को कभी न कभी गुजरना ही होता है, तो जाहिर है हम सबकी परेशानियां भी कुछ एक जैसी ही होंगी। सद्गुरु-सिन्धु से उठी आनंद की कुछ लहरों को आप तक पहुंचाने की कोशिश है ये किताब। पूरा विश्वास है कि ये हरें – आनंद की लहरें – आपके अंतस को छूएंगी और आपको आनंद से सराबोर कर देंगी।

सद्‌गुरु उन्हीं बातों को नहीं दुहराते जो हम सदियों से विभिन्न धर्मों, ग्रंथों या संतों से सुनते आ रहे हैं। वे जिस भी विषय पर बोलते हैं उसमें उनकी ज्ञान और अनुभव की गहराई के साथ आधुनिकता और विज्ञान का पुट भी होता है। हर विषय की जड़ तक जाकर अपने अनुभव में उतारने के बाद ही, उसे वे दूसरों के साथ बांटते हैं।

विश्व शांति और खुशहाली की दिशा में निरंतर काम कर रहे सद्गुरु के रूपांतरणकारी कार्यक्रमों से दुनिया के करोड़ों लोगों को एक नई दिशा मिली है।