Call Us +001 (931) 292-4876

Isha Lahar - December 2013 (e-book-download)

Be the first to review this product

यह पत्रिका उन सभी लोगों के लिए उपयोगी है जो जिंदगी को संपूर्णता में जीना चाहते हैं। यह पत्रिका जीवन के विभिन्न आयामों पर सद्गुरु (आधुनिक दिव्यदर्शी एवं योगी) के विशिष्ट ज्ञान को सुलभ कराती है। सद्गुरु का ज्ञान ग्रंथों एवं धर्म शास्त्रों से नहीं बल्कि गहन आंतरिक अनुभूति से प्रस्फुटित होने के कारण जीवन में बेहद प्रासंगिक है।


52 पृष्ठों की इस रंगीन पत्रिका में लेख, फीचर एवं सद्गुरु के विचारों के साथ-साथ समसामायिक मुद्दों को इस प्रकार प्रस्तुत किया जाता है कि उससे भारत के सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक आयाम का सहज साक्षात्कार हो।


पत्रिका की विषय सामग्री:
o सद्गुरु के विशिष्ट लेख
o सद्गुरु के साथ प्रश्नोत्तर
o सद्गुरु की आकर्षक कविताएं
o फोटो गैलरी
o स्वास्थ्य, संस्कृति एवं शिक्षा पर समाचार एवं लेख
o ईशा साधकों एवं अन्य प्रमुख व्यक्तियों के विचार
o स्वादिष्ट व पौष्टिक ईशा पाक विधि
o साक्षात्कार एवं सामयिक विषय
o आगामी कार्यक्रम एवं गतिविधियां


File Size: 9.49 MB
Pages: 27


Availability: In stock

$0.00
 
$0.00

Description

Details

यह पत्रिका उन सभी लोगों के लिए उपयोगी है जो जिंदगी को संपूर्णता में जीना चाहते हैं। यह पत्रिका जीवन के विभिन्न आयामों पर सद्गुरु (आधुनिक दिव्यदर्शी एवं योगी) के विशिष्ट ज्ञान को सुलभ कराती है। सद्गुरु का ज्ञान ग्रंथों एवं धर्म शास्त्रों से नहीं बल्कि गहन आंतरिक अनुभूति से प्रस्फुटित होने के कारण जीवन में बेहद प्रासंगिक है।

52 पृष्ठों की इस रंगीन पत्रिका में लेख, फीचर एवं सद्गुरु के विचारों के साथ-साथ समसामायिक मुद्दों को इस प्रकार प्रस्तुत किया जाता है कि उससे भारत के सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक आयाम का सहज साक्षात्कार हो।

पत्रिका की विषय सामग्री:
o सद्गुरु के विशिष्ट लेख
o सद्गुरु के साथ प्रश्नोत्तर
o सद्गुरु की आकर्षक कविताएं
o फोटो गैलरी
o स्वास्थ्य, संस्कृति एवं शिक्षा पर समाचार एवं लेख
o ईशा साधकों एवं अन्य प्रमुख व्यक्तियों के विचार
o स्वादिष्ट व पौष्टिक ईशा पाक विधि
o साक्षात्कार एवं सामयिक विषय
o आगामी कार्यक्रम एवं गतिविधियां

Additional Info

Additional Info

Description

यह पत्रिका उन सभी लोगों के लिए उपयोगी है जो जिंदगी को संपूर्णता में जीना चाहते हैं। यह पत्रिका जीवन के विभिन्न आयामों पर सद्गुरु (आधुनिक दिव्यदर्शी एवं योगी) के विशिष्ट ज्ञान को सुलभ कराती है। सद्गुरु का ज्ञान ग्रंथों एवं धर्म शास्त्रों से नहीं बल्कि गहन आंतरिक अनुभूति से प्रस्फुटित होने के कारण जीवन में बेहद प्रासंगिक है।

52 पृष्ठों की इस रंगीन पत्रिका में लेख, फीचर एवं सद्गुरु के विचारों के साथ-साथ समसामायिक मुद्दों को इस प्रकार प्रस्तुत किया जाता है कि उससे भारत के सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक आयाम का सहज साक्षात्कार हो।

पत्रिका की विषय सामग्री:
o सद्गुरु के विशिष्ट लेख
o सद्गुरु के साथ प्रश्नोत्तर
o सद्गुरु की आकर्षक कविताएं
o फोटो गैलरी
o स्वास्थ्य, संस्कृति एवं शिक्षा पर समाचार एवं लेख
o ईशा साधकों एवं अन्य प्रमुख व्यक्तियों के विचार
o स्वादिष्ट व पौष्टिक ईशा पाक विधि
o साक्षात्कार एवं सामयिक विषय
o आगामी कार्यक्रम एवं गतिविधियां

SKU # D-BK-ISHA-LAHAR-DECEMBER-2013
Returnable No
Featured Items No

Reviews

Write Your Own Review

You're reviewing: Isha Lahar - December 2013 (e-book-download)

How do you rate this product? *

  1 star 2 stars 3 stars 4 stars 5 stars
Price
Quality
Value

Tags

Tags

Use spaces to separate tags. Use single quotes (') for phrases.